बड़ों की शिक्षाओं का अनुसरण किया करो

बड़ों की शिक्षाओं का अनुसरण किया करो क्यूंकि यह शिक्षा आपको सफ़लता के साथ बिना कष्ट के तजुर्बा भी देती है  

जो दूसरों को सम्मान देता है

जो दूसरों को सम्मान देता है उसको खुद को भी सम्मान प्राप्त होता है यह ऐसी चीज़ है जितनी दूसरों को दोगे उससे कहीं अधिक आपकी मिलेगी

विश्वास और अंधविश्वास के बीच का फैसला

विश्वास और अंधविश्वास के बीच का फैसला आसान नहीं होता इसको समझने के लिए इंसान का विवेकी होना जरूरी है