pehlu

Pehlu

Pehlu

Zindagi ke har pehlu ka apna mahatv hai
agar dukh hai tabhi sukh kee koi paribhasha hai ||

पहलू

ज़िंदगी के हर पहलू का अपना अहत्व है
अगर दुःख है तभी सुख की कोई परिभाषा है ||

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *